शाकंभरी बोर्ड अध्यक्ष रामकुमार पटेल द्वारा उद्यानिकी विभाग के संचालनालयीन अधिकारियों के साथ बैठक हुआ संपन्न

रायपुर । छ.ग. राज्य शाकम्भरी बोर्ड के अध्यक्ष (केबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त) राम कुमार पटेल द्वारा उद्यानिकी विभाग के संचालनालयीन अधिकारियों के साथ हाल ही में बैठक आहूत की गई। उक्त बैठक में राम कुमार पटेल ने विभाग द्वारा संचालित समस्त केन्द्र प्रवर्तित एवं राज्य पोषित योजनाओं के भौतिक, वित्तीय प्रगति की समिक्षा की।
संचालक उद्यान माथेश्वरन वी द्वारा विभाग में संचालित समस्त योजनाओं की वित्तीय प्रगति एवं घटकवार जानकारी प्रस्तुत करते हुए अध्यक्ष महोदय को अवगत कराया कि संचालनालय स्तर से जिलों की योजनाओं के भौतिक वित्तीय लक्ष्य एवं पूर्ति की समीक्षा निरंतर की जाती है।
राज्य पोषित योजनाओं की चर्चा के दौरान बोर्ड को अवगत कराया गया कि विभाग में संचालित राज्य पोषित योजनाओं का कुल बजट 20.49 करोड़ है जिसमें मुख्य भाग पोषण बाड़ी योजना (10.00 करोड़) का है। अपर संचालक उद्यान भुपेन्द्र कुमार पाण्डेय द्वारा अवगत कराया गया कि राज्य पोषित योजना के घटक सामुदायिक फेंसिंग की कृषकों में बहुत अधिक मांग है किन्तु उक्त घटक हेतु भौतिक एवं वित्तीय लक्ष्य कम प्राप्त होते है। उक्त संबंध में संचालक उद्यान द्वारा अध्यक्ष शाकम्भरी बोर्ड से आगामी वर्षाें में राज्य पोषित योजनाओं अंतर्गत विभाग को अधिक बजट प्रदान किये जाने हेतु अपने स्तर से भी प्रयास किये जाने का निवेदन किया गया।
शाकम्भरी बोर्ड के सदस्यों द्वारा सामुदायिक बाड़ियों के संबंध में जानकारी चाहे जाने पर अवगत कराया गया कि सामुदायिक बाड़ी के विकास हेतु पृथक से बजट प्राप्त नहीं होता है किन्तु जिलों द्वारा अन्य मदों से कार्यों की स्वीकृति प्राप्त कर वर्तमान में 1719.01 हेक्टेयर रकबे में 3721 सामुदायिक बाड़ियों का विकास किया गया है। यह भी अवगत कराया गया कि सामुदायिक बाड़ियों के विकास का कार्य छ.ग. शासन की महत्वकांक्षी योजनाओं में से एक है अतः सामुदायिक बाड़ियों के विकास हेतु भी विभाग को पृथक से बजट प्रदान किये जाने हेतु अपने स्तर से भी प्रयास किये जाने का निवेदन किया गया।
धान के बदले अन्य फसल की प्रगति की चर्चा के दौरान बोर्ड सदस्यों को अवगत कराया गया कि पटवारियों द्वारा गिरदावली में उद्यानिकी फसल सम्मिलित न किये जाने के कारण उद्यानिकी फसलों का रकबा कम प्रदर्शित हो रहा है। अध्यक्ष शाकम्भरी बोर्ड द्वारा धान के बदले अन्य फसल की सफलता को दृष्टिगत रखते हुए उक्त योजना का क्रियान्वयन रबी फसलों हेतु भी किये जाने का सुझाव दिया गया।
अध्यक्ष द्वारा छ.ग. राज्य शाकम्भरी बोर्ड में पदस्थापना एवं बजट पर चर्चा की गयी। पदस्थापना के संबंध में संचालक उद्यान द्वारा अवगत कराया गया कि सहायक संचालक उद्यान से उप संचालक उद्यान पद पर पदोन्नति हेतु विभागीय पदोन्निति समिति शासन स्तर पर लंबित है उक्त पदोन्नति होने की स्थिति में स्थायी सचिव, शाकम्भरी बोर्ड की पदस्थापना की जावेगी। विभाग के नये सेटअप पर चर्चा के दौरान संचालक उद्यान द्वारा अवगत कराया गया कि नये सेटअप हेतु प्रस्ताव शासन को पूर्व में ही प्रेषित किया जा चुका है परन्तु स्वीकृति शासन स्तर से अपेक्षित है।
अध्यक्ष द्वारा स्थापना शाखा को समस्त जिलों से अधिकारी/कर्मचारियों के अनुपस्थिति के संबंध में जानकारी प्राप्त करने के निर्देश दिए तथा ऐसे अधिकारी/कर्मचारी जो लम्बे समय से अनुपस्थित है, उनको कार्य में उपस्थित होने हेतु अंतिम अवसर प्रदान करने हेतु पत्र लेख करने कहा। उन्होने आगे कहा की तत्पश्चात् भी कार्य पर उपस्थित नहीं होने की स्थिति में संबंधितों पर आवश्यक कार्यवाही किया जावे।
बैठक के अंत में मनोज कुमार अम्बष्ट, उप संचालक उद्यान द्वारा आभार प्रदर्शन किया गया एवम अध्यक्ष महोदय से बैठक समाप्त करने की अनुमति मांगी।
बैठक के दौरान बोर्ड के अध्यक्ष के साथ बोर्ड सचिव उप संचालक उद्यान श्री एन एस लावत्रे, बोर्ड के सदस्यगण अनुराग पटेल, दुखवा पटेल, पवन पटेल, हरि पटेल एवं संचालनालय से अपर संचालक भूपेंद्र कुमार पांडेय, संयुक्त संचालक वित्त अरविंद कुजूर, संयुक्त संचालक अभियांत्रिकी अवधिया, उप संचालक नीरज शाहा, उप संचालक मनोज कुमार अम्बष्ट, सहायक संचालक कमलेश कुमार साहू, सहायक संचालक स्थापना मीनू दास एवम संचालनालय के अधिकारी तथा कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer
error: Content is protected !!