छत्तीसगढ़ के ‘हमर लैब’ देश के लिए बन रहें हैं नजीर

छत्तीसगढ़ के ‘हमर लैब’ देश के लिए बन रहें हैं नजीर

राजस्थान व कर्नाटक के डॉक्टरों और अधिकारियों ने ‘हमर लैब’ का किया अध्ययन भ्रमण, इन लैबों द्वारा दी जा रही डायग्नोस्टिक सेवाओं की सराहना की

Advertisement

रायपुर।  छत्तीसगढ़ के जिला अस्पतालों और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में स्थापित किए जा रहे ‘हमर लैब’ पूरे देश के लिए नजीर बन रहे हैं। दूसरे राज्यों के अधिकारी और डॉक्टर अपने राज्यों में इस तरह का लैब स्थापित करने यहां के ‘हमर लैब’ के अध्ययन भ्रमण में आ रहे हैं। हाल ही में राजस्थान और कर्नाटक के डॉक्टरों एवं अधिकारियों के दल ने राज्य के ‘हमर लैब’ का दौरा कर इनकी अधोसंरचना तथा कार्य प्रणाली की जानकारी ली। एनएचएसआरसी (National Health System Resource Centre) नई दिल्ली तथा असम के डॉक्टरों और अधिकारियों की टीम भी इसके अध्ययन दौरे पर आने वाली है।

राज्य शासन के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं के सुदृढ़ीकरण के लिए शासकीय अस्पतालों को ज्यादा साधन संपन्न बनाने के साथ ही मौजूदा सुविधाओं को मजबूत किया जा रहा है। जिला अस्पतालों और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में सस्ते दरों पर विभिन्न तरह की जांच की सुविधा प्रदान करने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, छत्तीसगढ़ द्वारा ‘हमर लैब’ स्थापित किए जा रहे हैं। ‘हमर लैब’ देखने आए राजस्थान और कर्नाटक की टीम ने एक ही छत के नीचे दी जा रही लैब की गुणवत्तापूर्ण  डायग्नोस्टिक सेवाओं की सराहना की है। ‘हमर लैब’ ने कोरोना काल के दौरान भी लगातार सेवाएं दी हैं। राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम कर रही सीडीसी, जपाईगो, पाथ और क्लिंटन फाउंडेशन जैसी संस्थाओं ने भी ‘हमर लैब’ का भ्रमण कर इसकी प्रशंसा की है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला ने बताया कि ‘हमर लैब’ में जांच की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। रायपुर जिला अस्पताल के ‘हमर लैब’ के सफल संचालन और इसके अच्छे परिणामों को देखते हुए अन्य जिला अस्पतालों में भी इसे स्थापित किया जा रहा है। राज्य के नौ जिला अस्पतालों दुर्ग, बालोद, बलौदाबाजार, कांकेर, कोंडागांव, बस्तर, सुकमा, बीजापुर और बलरामपुर तथा तीन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों मानपुर, पाटन और पलारी में ‘हमर लैब’ की स्थापना की जा चुकी है। एफआरयू सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी इसकी स्थापना प्रक्रियाधीन है।

देश का पहला लोक स्वास्थ्य इकाई सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पाटन में स्थापित

विकासखंड स्तर पर देश का पहला लोक स्वास्थ्य इकाई (ब्लॉक पब्लिक हेल्थ यूनिट) सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पाटन में स्थापित किया गया है। वहां ‘हमर लैब’ के माध्यम से मरीजों को सभी तरह की जांच की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। जिला चिकित्सालयों के ‘हमर लैब’ में 120 प्रकार के और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के लैब में 50 तरह की जाँच की सुविधा है। इन लैबों का संचालन स्थानीय स्तर पर उपलब्ध संसाधनों के द्वारा किया जा रहा है।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer
error: Content is protected !!