सुकमा जिले के अंदरुनी क्षेत्रों में हो रहा संचार सुविधा का विस्तार

सुकमा जिले के अंदरुनी क्षेत्रों में हो रहा संचार सुविधा का विस्तार

Advertisement

पिछले एक माह में चार गांवों में लगे मोबाइल टॉवर, ग्रामीणों में उत्साह

सुकमा । आज के आधुनिक समय में संचार माध्यम की आवश्यकता हर किसी को है। मोबाइल और इंटरनेट आज आम जन जीवन का अहम हिस्सा बन चुका है। सुकमा जिले मेें शासन प्रशासन द्वारा संचार सुविधाओं के विस्तार और सुदृढ़िकरण के लिए पुरजोर प्रयास किए जा रहे है। सुकमा में कई ऐसे क्षेत्र हैं, जहां वर्षों से मोबाइल नेटवर्क नहीं थे। जिससे यहां रहने वाले ग्रामीण मानो आम जन जीवन से अछूते रहे। उन्हें ना तो मोबाइल का पता था ना ही समार्टफोन का, और ना ही वे मोबाइल सिगनल के लिए घर की छत पर चढ़कर मशक्कत करते। नई पीढ़ी के युवाओं का वास्ता समार्टफोन से तो रहा, पर अच्छे नेटवर्क और सिगनल के अभाव में वह इंटरनेट की दुनिया से परिचित नही रहे।
आज परिस्थितियां बदल रही है। शासन प्रशासन के निर्देशन पर universal service obligation fund  द्वारा जिले में संचार व्यवस्था को बेहतर करने के लिए जिले के ऐसे क्षेत्र जहां किसी भी नेटवर्क की पंहुच नही है, उनका सर्वे कार्य कर वहां जियो मोबाइल टॉवर स्थापित किए जा रहे हैं। पिछले एक माह के भीतर ही जिले में चार स्थानों पर मोबाइल टॉवर स्थापित किए गए है। जिसमेें तीन टॉवर जिले के संवेदनशील क्षेत्रों में लगे है। कोण्टा विकासखण्ड के मिनपा, एल्मागुण्डा में ग्रामीणों और सुरक्षा बल के जवानों की आवश्यकता की पूर्ति के लिए हाल ही में मोबाइल टॉवर स्थापित किए गए हैं। छिन्दगढ़ विकासखण्ड के कुमाकोलेंग में मोबाइल टॉवर स्थापित होने से ग्रामीणों में उत्साह है। वहीं सुकमा विकासखण्ड के गीदमनाला में मोबाइल टॉवर लगने से संचार माध्यम सशक्त हुआ है।
जिले में संचार व्यवस्था के विस्तार के लिए नो नेटवर्क क्षेत्रों का सर्वे कार्य किया जा रहा है। जिसमें universal service obligation fund  द्वारा प्रथम चरण में 42 मोबाइल टॉवर लगाएं जाने है।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer
Advertisement
error: Content is protected !!