बहेराडीह के किसान स्कूल में राज्य स्तरीय हरेली महोत्सव होगा आयोजित, वरिष्ठ पत्रकार स्व कुंजबिहारी साहू की स्मृति में होगा भब्य आयोजन, विविध विधाओं में विजेता प्रतिभागी को किसान करेंगे सम्मानित

बहेराडीह के किसान स्कूल में राज्य स्तरीय हरेली महोत्सव होगा आयोजित, वरिष्ठ पत्रकार स्व कुंजबिहारी साहू की स्मृति में होगा भब्य आयोजन, विविध विधाओं में विजेता प्रतिभागी को किसान करेंगे सम्मानित

जांजगीर चांपा। भारत का पहला किसान स्कूल बहेराडीह, जहाँ किसानों का पर्व हरेली को राज्य स्तर पर जिले के वरिष्ठ पत्रकार स्व कुंजबिहारी साहू जी की स्मृति में बलौदा जनपद उपाध्यक्ष नम्रता राघवेंद्र नामदेव के एक छोटे से गोद गाँव बहेराडीह में हमर संगवारी किसान उत्पादक कंपनी जांजगीर के तत्वाधान में स्वयंसेवी संस्था रेस्टोरेंशन फाउंडेशन चाम्पा के मार्गदर्शन पर मनाया जायेगा। इस हरेली महोत्सव में मॉडल गौठान बहेराडीह में विभिन्न गतिविधियों को लेकर काम करने वाले बिहान के स्व सहायता समूह की महिलाओ द्वारा छत्तीसगढ़ी पकवानो का का प्रदर्शनी लगाए जायेंगे। इस प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली समूह की महिला को बलौदा जनपद उपाध्यक्ष नम्रता ने हरे रंग की साड़ी, श्रीफल और प्रशस्ति पत्र से सम्मानित करेंगी। इसी तरह गेड़ी दौड़, कुर्सी दौड़, फुगड़ी नृत्य और भौरा प्रतियोगिता में प्रथम आने वाले प्रतिभागी को हमर संगवारी किसान उत्पादक कंपनी के अध्यक्ष श्यामलाल राठौर, डायरेक्टर रामाधार देवांगन, दीनदयाल यादव, विकास साहू, पिलेश्वर देवांगन, जितेंद्र कुमार यादव, कलेशराम देवांगन, संतोष बरेठ टीम द्वारा पुरस्कृत किया जायेगा। किसान स्कूल के संचालक दीनदयाल यादव ने बताया कि राज्य स्तरीय हरेली महोत्सव का शुभारम्भ गाय, बैल को अरंडी का पत्ती के साथ नमक खिलाकर पूजा और क़ृषि औजारों का विधिविधान पुर्वक कृषक रामाधार देवांगन और शिवकुमार तिवारी के द्वारा कराकर किया जायेगा। तत्पश्चात स्कुल परिसर पर गेड़ी, कुर्सी दौड़, भौरा, फुगड़ी नृत्य, छत्तीसगढ़ी पकवानो का प्रदर्शनीय प्रतियोगिता होंगी। इस दौरान एफपीओ के डायरेक्ट रामाधार देवांगन के नेतृत्व में दीनदयाल यादव, दीनदयाल यादव द्वारा कवि मीर अली की ये नंदा जाहि का रे नंदा जाहि कविता की आकर्षक प्रस्तुति देंगे। हरेली महोत्सव में स्थानीय जिले के अलावा प्रदेश के अन्य जिलों के प्रगतिशील किसानों के अलावा क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, महिला समूह, मितानिने, युवा मंडल, कीर्तन भजन मण्डली, गौठान विकास प्रबंधन समिति, शाला प्रबंधन विकास समिति, स्वास्थ्य व स्वच्छता समिति, ग्राम सुरक्षा समिति के पदाधिकारी और स्कूली छात्र छात्राएं भी शामिल होंगी। उल्लेखनीय हैं कि जिले के प्रगतिशील किसानों द्वारा हरेली महोत्सव में विलुप्त होती क़ृषि औजारों का प्रदर्शनीय और खेती किसानी में उनके महत्व को लेकर किसान और क़ृषि विभाग के अधिकारी प्रकाश डालेंगे।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer
error: Content is protected !!