जुनून और हौसले से भरे स्वास्थ्य कर्मियों की टीम कोविड टीकाकरण के लिए हर बाधा को पार करते हुए गांव-गांव तक पहुंच रही

जुनून और हौसले से भरे स्वास्थ्य कर्मियों की टीम कोविड टीकाकरण के लिए हर बाधा को पार करते हुए गांव-गांव तक पहुंच रही

Advertisement

– कलेक्टर ने जनसामान्य से टीकाकरण के लिए किया आव्हान
– जिले में आज 453 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 17 हजार 369 नागरिकों का टीकाकरण किया गया

राजनांदगांव । जिस दिन से चला हूँ मैं मेरी मंजिल पे है नजर
इन आँखों ने कभी मील का पत्थर नहीं देखा..
यह पंक्तियां स्वास्थ्यकर्मियों के टीकाकरण के प्रति जज्बे को बयां करती है। जिले में शनिवार एवं रविवार को टीकाकरण के लिए जिला प्रशासन द्वारा महाअभियान चलाया गया है। जुनून और हौसले से भरे स्वास्थ्य कर्मियों की टीम कोविड टीकाकरण के लिए हर बाधा को पार करते हुए गांव-गांव तक पहुंच रही है। शहर, गांव, गली, चौराहों, चौपालों हर घर तक टीकाकरण के लिए टीम दस्तक दे रही है। टीकाकरण के लिए जिला प्रशासन ने अपनी ताकत झोंकी है। जिले में गांव के हाट बाजार में तो वहीं मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना के तहत शहरी क्षेत्रों में भी मोबाइल मेडिकल यूनिट के माध्यम से टीकाकरण लगातार जारी है। जिले में आज 453 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 17 हजार 369 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। कलेक्टर डोमन सिंह ने जनसामान्य से टीकाकरण के लिए आव्हान किया है। उन्होंने कहा कि जिले में कोविड-19 संक्रमण के केस फिर से बढ़ रहे हैं। हमारा जिला अन्य राज्यों की सीमा से लगा हुआ है, जिससे स्थिति संवेदनशील हो जाती है। उन्होंने नागरिकों से कहा कि इस अभियान में ज्यादा से ज्यादा हिस्सा लें और बूस्टर डोज अवश्य लगवाएं। साथ ही जिन्हें पहला या दूसरा डोज नहीं लगाया है वे भी जरूर लगवाएं। 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों से भी अपील करते हुए उन्होंने कहा कि वे भी बिना डर के आगे आयें और वैक्सीन लगवाएं। टीकाकरण कराकर अपने व अपने परिवार की सुरक्षा का ख्याल रखें और एक जिम्मेदार नागरिक होने का फर्ज निभाएं। उन्होंने सभी अधिकारी, स्वास्थ्यकर्मी, मितानिन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को युद्ध स्तर पर कार्य करने के लिए प्रेरित किया है। जिले को सुरक्षित रखने के लिए इस महाअभियान में हर एक को अपनी सहभागिता निभानी होगी।
कोविड- 19 संक्रमण से सुरक्षा के लिए टीकाकरण जरूरी है। जिन्होंने कोविड टीका का पहला और दूसरा डोज तथा बूस्टर डोज लगवा लिया है। वे कोविड से सुरक्षित रहे हैं। कोरोना की तीसरी लहर में भी यह देखा गया है कि जिन्होंने भी टीका लगाया है वे सुरक्षित हुए हैं। चौथी लहर की दस्तक को समझते हुए टीकाकरण कराने में ही समझदारी है। कलेक्टर सिंह ने कहा है कि ऐसे ग्राम पंचायत जो शत-प्रतिशत टीकाकरण करा लेंगे उन्हें सम्मानित किया जायेगा। जिले में आज 453 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 17 हजार 369 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। जिसमें 12 वर्ष से 14 वर्ष के 90 बच्चों का कोविड टीकाकरण की पहली डोज व 145 बच्चों को कोविड टीकाकरण की दूसरी डोज लगाया गया। 15 वर्ष से 17 वर्ष के 30 बच्चों का कोविड टीकाकरण की पहली डोज व 135 बच्चों को कोविड टीकाकरण की दूसरी डोज लगाया गया। 18 वर्ष से अधिक 214 नागरिकों को टीकाकरण का पहला डोज व 1365 नागरिकों को टीकाकरण की दूसरी डोज लगाया गया। 106 एचसीडब्ल्यू, 11 फ्रंट लाईन वर्कर व 18 वर्ष से अधिक 15 हजार 273 नागरिकों को प्रीकॉसन डोज लगाया गया।
अम्बागढ़ चौकी विकासखंड में 75 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 800 नागरिकों को टीकाकरण किया गया। इसी तरह छुईखदान विकासखंड में 60 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 1203 नागरिकों, छुरिया विकासखंड में 65 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 2048 नागरिकों, डोंगरगांव विकासखंड में 38 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 1347 नागरिकों, डोंगरगढ़ विकासखंड में 37 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 2848 नागरिकों, खैरागढ़ विकासखंड में 44 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 2720 नागरिकों, मानपुर विकासखंड में 28 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 803 नागरिकों, मोहला विकासखंड में 50 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 1601 नागरिकों, घुमका विकासखंड में 29 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 2290 नागरिकों तथा नगर पालिक निगम राजनांदगांव में 27 वैक्सीनेशन टीम द्वारा 1709 नागरिकों का टीकाकरण किया गया।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer
error: Content is protected !!