दो राज्यों के बीच भटकती महिला का पारिवारिक एकीकरण कराया


दो राज्यों के बीच भटकती महिला का पारिवारिक एकीकरण कराया


जांजगीर चांपा। 9 अगस्त 2022/ महिलाओं को घर के भीतर अथवा बाहर किसी भी प्रकार की हिंसा से निजात दिलाने हेतु जिले में महिला एवं बाल विकास विभाग के अंतर्गत सखी वन स्टॉप सेंटर जांजगीर पिछले पांच वर्षों से कार्य कर रही है। सखी द्वारा अनेक महिलाओं को अन्याय प्रताड़ना, हिंसा आदि से बचाने का कार्य किया जा रहा है। इसी प्रकार सखी द्वारा दो राज्यों में रहने वाले लोगों का प्रकरण (छ.ग. मायका, हरियाणा ससुराल) का सफल पारिवारिक एकीकरण कराया गया। सर्वाइवर छ.ग. के जांजगीर जिले की निवासी है। जिसका ससुराल हरियाणा के जिन्द जिले में है। उनका पारिवारिक आपसी विवाद इतना ज्यादा हो गया कि उसके पति द्वारा उसकी पांच बेटियों को जबरदस्ती उससे दूर हरियाणा ले जाया जा रहा था। मामले के संज्ञान में आते ही केन्द्र प्रशासक एच. निशा खान द्वारा मामले को अत्यंत संवेदनशीलता एवं गंभीरता से लेते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी राजेन्द्र कश्यप के मार्गदर्शन में तत्काल कार्यवाही करते हुए अनावेदक पति एवं उनके सास-ससुर से संपर्क किया गया एवं कार्यालय में उपस्थित होने को कहा गया। अनावेदक पक्ष के कार्यालय में उपस्थित होने पर उनकी काउंसलिंग की गयी। काउंसलिंग के दौरान उनकी समझ बनी तद्पश्चात सर्वाइवर एवं अनावेदक पक्ष की साझी काउंसलिंग की गयी साथ ही उनके बच्चों से भी चर्चा की गयी। जिसके बाद सर्वाइवर खुशी-खुशी अपने पति, बच्चों व ससुराल वालों के साथ हरियाणा गयी। इस प्रकार से सखी वन स्टॉप सेन्टर जांजगीर द्वारा दो राज्यों में रहने वाले लोगों के प्रकरण में सफल पारिवारिक एकीकरण कराया गया।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer
Advertisement
error: Content is protected !!