नहर पुल पर नहीं लगेगा जाम, बेहतर आवागमन के साथ मिलेगा आराम कलेक्टर के प्रयासों से नहर पुल का होगा चौड़ीकरण

नहर पुल पर नहीं लगेगा जाम, बेहतर आवागमन के साथ मिलेगा आराम

Advertisement

कलेक्टर के प्रयासों से नहर पुल का होगा चौड़ीकरण

कार्य प्रारंभ करने और सुरक्षित आवागमन के संबंध में दिए निर्देश

जांजगीर-चांपा 08 अक्टूबर 2022/ चाम्पा से जांजगीर आते ही मुख्य मार्ग में सिंचाई विभाग के संकरे नहर पुल पर वाहनों के जाम में फंसने वाले आम लोगों को जल्दी ही राहत के साथ आराम मिलने लगेगा। नहर पुल के चारों तरफ मार्ग होने से आवागमन में जो परेशानी उठानी पड़ती है, वह भी अब दूर हो जाएगी। कलेक्टर  तारन प्रकाश सिन्हा के प्रयासों से इस संकरे पुल का न सिर्फ उद्धार होने वाला है, अपितु पुल को चौड़ा करने के साथ आवागमन को बेहतर बनाने की दिशा में भी काम प्रारंभ कर दिया गया है। उनकी पहल पर शहरवासियों की बहुप्रतीक्षित मांग पूरी होने वाली है।
सबसे अधिक धान उत्पादन वाले जिले के रूप में पहचान रखने वाले जांजगीर-चाम्पा जिले से सिंचाई विभाग की नहर मुख्य मार्ग से होकर गांव के खेतो तक पहुंचती है। शहरों के भीतर मुख्य मार्ग में बने हुए नहर पुल बहुत पुराने भी है। वर्तमान समय के साथ नहर पुल वाले मुख्यमार्ग पर यातायात का दबाव भी तेजी से बढ़ रहा है। मुख्य मार्ग पर यातायात का दबाव बढ़ने से नहर पुल पर आये दिन ट्रैफिक जाम की स्थिति भी निर्मित होती है। यह समस्या और भी विकराल हो जाती है, जब कोई उत्सव का माहौल हो। नहर पुल के चारों तरफ कालोनी सहित विभिन्न स्थानों में जाने के लिए सड़के होने की वजह से भी यातायात का दबाव बनता है। इस संबंध में कलेक्टर  सिन्हा के समक्ष भी आमनागरिकों सहित जनप्रतिनिधियों ने अपनी बातें रखी थी। कलेक्टर ने इस समस्या को जल्दी ही दूर करने के लिए जल संसाधन विभाग के कार्यपालन अभियंता  सतीश सराफ सहित अन्य कार्य एजेंसियों से चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए थे। अब जल्दी ही नहर पुल को चौड़ा करने का काम प्रारंभ किया जायेगा। इससे जांजगीर वासियों के साथ इस मार्ग से गुजरने वाले नागरिकों को बहुत राहत मिलेगी।

नवंबर के पहले सप्ताह से प्रारंभ हो जाएगा कार्य

जिला खनिज मद से स्वीकृत चाम्पा-जांजगीर मुख्य मार्ग के नहर पुल को चौड़ा करने का कार्य नवंबर के पहले सप्ताह के बाद प्रारंभ हो जाएगा। कलेक्टर के निर्देश पर इसके लिए लगभग 78 लाख रूप्ये की प्रशासकीय स्वीकृति भी मिल गई है। चूंकि अभी इस नहर के माध्यम से किसानों के खेतों तक फसलों के लिए पानी की आपूर्ति की जा रही है, ऐसे में नहर पुल में किसी तरह का कार्य प्रारंभ नहीं किया गया है। सिंचाई विभाग के ईई सराफ ने बताया कि खरीफ सिंचाई पूर्णता की ओर है। 31 अक्टूबर के पश्चात कभी भी नहर को बंद किया जा सकता है। कलेक्टर सिन्हा ने पुलिया चौड़ीकरण कार्य के दौरान बेरीकेडिंग करने और आवागमन को बाधित नहीं करने के निर्देश भी दिए हैं।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer
Advertisement
error: Content is protected !!