छत्तीसगढ़ गौरव दिवस पुरखों के सपनों को कर रहे साकार: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल चार साल की उपलब्धि को बताने के साथ पुरखो को किया याद

 

छत्तीसगढ़ गौरव दिवस

पुरखों के सपनों को कर रहे साकार: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

Advertisement

चार साल की उपलब्धि को बताने के साथ पुरखो को किया याद

जांजगीर-चाम्पा 17 दिसम्बर 2022/ राज्य सरकार के आज 4 साल पूरा होने के अवसर पर जिले में छत्तीसगढ़ गौरव दिवस का आयोजन किया गया। जांजगीर के ऐतिहासिक भीमा तालाब परिसर में आयोजित कार्यक्रम में आमनागरिको ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संदेश को भी सुना। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि हमारे पुरखों ने जो सपना देखा था, उसे राज्य में साकार किया जा रहा है। विभिन्न योजनाओं से आर्थिक समृद्धि और खुशहाली का द्वार खोला गया है। उन्होंने विगत 4 साल में राज्य के विकास के लिए बनाएं योजनाओं से किसानों, मजदूरों,गरीबों और आमनागरिकों की बदल रही परिस्थितियों को बताया। कार्यक्रम में नगर पालिका परिषद जांजगीर के अध्यक्ष भगवान दास गढेवाल, राज्य महिला आयोग की सदस्य शशिकान्ता राठौर, अनुसूचित जाति आयोग के सदस्य रमेश पैगवार, नैला कृषि उपज मंडी के अध्यक्ष व्यास नारायण कश्यप, एल्डरमैन रफीक सिद्दीकी, मनोज अग्रवाल, दिनेश शर्मा, इंजीनियर रवि पांडेय, राघवेंद्र कुमार सिंह, देवेश सिंह, विवेक सिसोदिया, शिशिर द्विवेदी, संतोष शर्मा, कलेक्टर तारन प्रकाश सिंह, अपर कलेक्टर एस पी वैद्य, एसडीएम कमलेश नंदिनी साहू सहित पार्षद, जनप्रतिनिधिगण एवम आम नागरिक उपस्थित थे।

किसान, मजदूर, महिला, युवा बुजुर्ग, अमीर-गरीब सभी वर्गाें मे है गौरव का अहसास

जिले में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि भगवान दास गढेवाल, अध्यक्ष नगर पालिका परिषद ने कहा कि आज हम सभी छत्तीसगढ़ियों को गर्व की अनुभूति होती है। स्वाभिमान का अहसास होता है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में सभी वर्ग के लिए जनकल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। शिक्षा, स्वास्थ्य के अलावा बिजली बिल हाफ कर लोगों को लाभ पहुचाया जा रहा है। उन्होंने नगर के विकास में किए जा रहे कार्यों की भी जानकारी दी। छत्तीसगढ़ राज्य अनुसूचित जाति आयोग के सदस्य रमेश पैगवार ने कहा कि सरकार की योजनाओं ने एक नए परिवर्तन की शुरुआत की। स्वाभिमान से रहना और सम्मान से छत्तीसगढ़ियों को जीना सिखाया। हम जो छत्तीसगढ़ी परम्परा भूल रहे थे, उन परम्पराओं को पुनर्जीवित करने का काम किया। जनकल्याणकारी योजनाओं से सभी वर्ग के लोगों के जेब में पैसा देने का काम किया। इससे बाजार में पैसा और व्यापारियों में भी खुशी है। कार्यक्रम को दिनेश शर्मा, राघवेंद्र कुमार सिंह, रवि पांडेय, विवेक सिसोदिया ने भी संबोधित किया और सरकार के योजनाओं की सराहना की। कार्यक्रम में कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने कहा कि सभी के लिए न्याय सरकार का प्रमुख लक्ष्य है और इस दिशा में सफलता के साथ कार्य किया जा रहा है। गाँव के ग्रामीणों, शहरी क्षेत्र, वनवासियों, मजदूरों सहित सभी वर्ग के लिए योजनाएं बनाकर हर वर्ग का उत्थान किया। उन्होंने कहा कि जिला भी प्रगति की राह में आगे बढ़ रहा है। छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के संभाग स्तरीय प्रतियोगिता में प्रथम स्थान, मानस गान प्रतियोगिता में भाग लेने जिले से एक हजार मानस मंडली का पंजीयन ,सबसे ज्यादा पैरादान और गौमूत्र खरीदी में नम्बर वन बन गया है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ गौरव दिवस पर जिले के प्रत्येक किसान, मजदूर, महिला, युवा बुजुर्ग, अमीर-गरीब सहित सभी वर्गाें में गौरव का अहसास हो रहा हैं। कार्यक्रम में हितग्राहियों को राशनकार्ड का वितरण तथा पैरादान करने वाले वार्ड एक के पार्षद प्रीतम कश्यप को सम्मानित किया गया।

गौठानों एवं धान उपार्जन केन्द्रों सहित अन्य स्थानों में मनाया गया गौरव दिवस

छत्तीसगढ़ सरकार के चार साल पूरा होने के उपलक्ष्य में जिले के गौठानों एवं धान उपार्जन केन्द्रों में भी छत्तीसगढ़ गौरव दिवस का आयोजन किया गया। इस दौरान किसानों एवं ग्रामीणों को राज्य शासन के जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। इसी तरह प्राथमिक सहकारी सोसाइटी, तेन्दूपत्ता संग्रहण केन्द्रों , वनोपज प्रबंधन समिति के कार्यालयों सहित अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर गौरव दिवस का कार्यक्रम आयोजित किया गया।

जनसंपर्क की प्रदर्शनी में दिख रही विकास की झलक

छत्तीसगढ़ गौरव दिवस के अवसर पर जनसंपर्क कार्यालय जांजगीर-चाम्पा द्वारा जांजगीर के भीमा तालाब परिसर में राज्य सरकार की योजनाओं पर आधारित फ़ोटो की प्रदर्शनी लगाई गई है। दो दिवसीय इस प्रदर्शनी का शुभारंभ मुख्य अतिथि भगवान दास गढेवाल सहित अन्य अतिथियों ने फीता काटकर किया। प्रदर्शनी में राज्य शासन की योजनाओं और सरकार के द्वारा किए गए जन कल्याणकारी योजनाओं को बताया गया है। जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रदर्शनी के माध्यम से योजनाओं पर आधारित प्रचार-प्रसार सामग्रियों का वितरण भी किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने की महत्वपूर्ण घोषणा

 

मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने आज छत्तीसगढ़ गौरव दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए तीन महत्वपूर्ण घोषणाएं की। मुख्यमंत्री  बघेल ने ’मुख्यमंत्री वृक्ष सम्पदा’ की घोषणा करते हुए इस योजना के लिए 100 करोड़ रूपए,सभी शालाओं, छात्रावासों, आश्रमों, शासकीय भवनों के रख रखाव और उन्नयन के लिए एक हजार करोड़ रूपए,तकनीकी शिक्षा के स्तर में सुधार हेतु औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थाओं के उन्नयन के लिए ’स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट आईटीआई योजना’ की घोषणा करते हुए इस योजना के लिए 1200 करोड़ रूपए देने की घोषणा की ।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer
Advertisement
error: Content is protected !!