जिला प्रशासन जांजगीर चांपा की बोलेगा बचपन अभिनव पहल , कलेक्टर आकाश छिकारा ने बोलेगा बचपन अभियान का पेंड्री प्राथमिक स्कूल से किया शुभारंभ

जिला प्रशासन जांजगीर चांपा की बोलेगा बचपन अभिनव पहल , कलेक्टर आकाश छिकारा ने बोलेगा बचपन अभियान का पेंड्री प्राथमिक स्कूल से किया शुभारंभ

कलेक्टर के सामने तेजस, शीतला, समीर, मुस्कान, चंचल, हिमांशु, रिया, भारती, प्रभा ने सुनाई कविता, पुरुस्कार में मिली टॉफी

 

जांजगीर-चांपा 16 जनवरी 2024/ कलेक्टर आकाश छिकारा की अभिनव पहल से जिले के स्कूलों में बोलेगा बचपन अभियान बच्चों में बोलने के कौशल का विकास के लिए 16 जनवरी से प्रारंभ किया गया। उन्होंने शासकीय प्राथमिक शाला पेंड्री से बोलेगा बचपन अभियान का शुभारंभ करते हुए कहा कि इससे स्कूल में पढऩे वाले विद्यार्थियों में मंच से बोलने की हिचकिचाहट दूर होगी और उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा। इस अभियान के अंतर्गत स्कूल जाने वाले विद्यार्थी प्रातः प्रार्थना सभा के समय अपना परिचय देंगे और आज का सुविचार बताएंगे व उस दिवस में अखबार में प्रकाशित समाचार को पढक़र सुनाएंगे। इससे बच्चों के आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी व स्कूल के अन्य विद्याथियों को देश-दुनिया की महत्तपूर्ण खबरों के बारे में पता चल पाएगा। इस दौरान उन्होंने स्कूल के बच्चों को मंच पर बुलाया और उसने कविता सहित उनके विचार सुने। उन्होंने बच्चों से कई प्रश्न किये जिसका बच्चो ने जवाब दिया। बच्चो ने बताया कि उन्हें पढ़ना और खेलना बहुत अच्छा लगता है। बच्चो को प्रोत्साहित करते हुए कलेक्टर ने टॉफी, कंपोक्स देकर पुरुस्कृत भी किया। कलेक्टर ने कहा कि बोलेगा बचपन अभियान सभी प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय में शुरू किया जा रहा है, भविष्य में प्रत्येक विद्यालय, प्रत्येक कक्षा, प्रत्येक बच्चे की मौखिक अभिव्यक्ति कौशल विकास गतिविधि समय-समय पर एक अभियान के रूप में चलायी जायेगी। स्कूलों और शिक्षकों के रूप में यह हमारी जिम्मेदारी है कि कक्षा में कोई भी बच्चा शिक्षक के ध्यान से वंचित न रहे और हर बच्चा हर गतिविधि में शामिल हो। सरकारी प्राथमिक विद्यालयों में कक्षा 1 से 5 तक पढ़ने वाले बच्चे बेहतर नागरिक निर्माण के लिए अपनी मौखिक अभिव्यक्ति विकसित करें, क्योंकि मानव मन बौद्धिक विकास का स्त्रोत है और केवल मन के विचारों के उचित प्रतिनिधित्व के माध्यम से ही वैचारिक परिपक्वता विकसित करने की उचित गुंजाइश हो सकती है। इस अवसर पर डीएमसी आर के तिवारी, विकासखंड शिक्षा अधिकारी, बीआरसी सहित हेडमास्टर सहित शिक्षिक-शिक्षिकाएं एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

16 फरवरी को होगी प्रतियोगिता –

बोलेगा बचपन योजना के सफलता पूर्वक संचालन के लिए 16 फरवरी 2024 में स्कूल स्तर पर, संकुल स्तर पर, विकासखण्ड स्तर पर एवं जिला स्तर पर प्रतियोगिता के माध्यम से श्रेष्ठ बच्चों का चयन किया जाएगा एवं उन्हे पुरस्कृत किया जायेगा।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer
error: Content is protected !!