जीवन को बेहतर कैसे बनाए विषय पर हुआ व्याख्यान माला, जिला मल्लखंब एसोसियेशन की नवाचारी पहल मल्लखंब अखाड़ा खिलाड़ियों को खेल के साथ दे रही है गुणात्मक शिक्षा

जीवन को बेहतर कैसे बनाए विषय पर हुआ व्याख्यान माला, जिला मल्लखंब एसोसियेशन की नवाचारी पहल मल्लखंब अखाड़ा खिलाड़ियों को खेल के साथ दे रही है गुणात्मक शिक्षा

एस सी ई आर टी के रिसोर्स पर्सन राजकुमार जलतारे रहे विषय विशेषज्ञ

 

 

पामगढ़ 11 फ़रवरी 2024.

जिला मल्लखंब एसोसियेशन जांजगीर चांपा के बैनर तले पामगढ़ के समीपस्थ ग्राम कुटराबोड़ में भारत की प्राचीन खेल विधा मल्लखंब का प्रशिक्षण विगत 7 सालों से दिया जा रहा है।कमेटी की ओर से आज 11:00 बजे “जीवन को बेहतर कैसे बनाएं” इस विषय पर एक दिवसीय व्याख्यान माला का आयोजन किया गया ।जिसमें विषय विशेषज्ञ के रूप में एस सी ई आर टी के रिसोर्स पर्सन राजकुमार जलतारे शामिल हुए। आपने प्रारंभिक अपने विषय के रूप में बच्चों के जीवन शैली खान-पान मैनेजमेंट जैसे पहलुओं को छुआ और खिलाड़ियों के बेहतर हेल्थ और बौद्धिक क्षमता को जाचते हुए उनके लिए प्रोजेक्टर के माध्यम से सिखाने का काम अपने व्याख्यान में किया। आपके सिखाने के नवाचारी शैली से खिलाड़ी अत्यंत प्रभावित हुए।इस बीच बच्चे निरंतर उनके क्लास में रुचि दिखाते हुए सवाल-जवाब करते रहे ।बीच में विषय विशेषज्ञ जलतारे ने गतिविधियों के माध्यम से बच्चों के आंतरिक बुद्धि लब्धि को जाचने हेतु खेल विधि के माध्यम से भी गतिविधियां कराया ।ज्ञात हो जिला मल्लखंब अपने शानदार प्रदर्शन के लिए जांजगीर जिले में अपनी एक अलग पहचान बन चुकी है और पूरे देश भर में अभी तक राष्ट्रीय स्तर के 36 मेडल प्राप्त कर चुके हैं। जिला मल्लखंब के संस्थापक पुष्कर दिनकर ने बताया की बच्चों को हम खेल में पारंगत कर ही रहे हैं ।हमारी प्राथमिकता है कि इन बच्चों को मूल्य परक शिक्षा से भी जोड़ा जाए इनके बेहतर शिक्षण के लिए हम इस तरह का आयोजन निरंतर करते रहेंगे ।जो भी हमारे रिसोर्स पर्सन है शिक्षा जगत से जुड़े हुए स्वास्थ्य से जुड़े हुए या जिला प्रशासन में जो प्रशासन के विषय विशेषज्ञ है उनको हम आमंत्रित करते रहेंगे और बच्चों के बौद्धिक स्तर को बढ़ाने का यह कार्य निरंतर यूं ही चलता रहेगा इस कार्यशाला में शिक्षक चंद्रमोहन तिवारी का विशेष सहयोग प्राप्त हुआ जिन्होंने अविलंब प्रोजेक्टर की व्यवस्था किया। जिससे यह कार्यशाला सुचारू रूप से संचालित होने में सफल हुआ। बच्चे इस तकनीक से विषय को ज्यादा और नजदीक से समझ पाए ।कार्यशाला में मल्लखंब के सहायक कोच प्रभात कुमार अकलेश नारंग और खिलाड़ियों में डिंपी, शिक्षा, किरण अखिलेश, हर्षद ,आयुष ,रोशन ,पियूष, प्रज्ञा सहित कुल 38 खिलाड़ी शामिल रहे। बच्चों में इस आयोजन को लेकर विशेष उत्साह देखने को मिला है।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer
error: Content is protected !!