शिक्षक गढ़ते है बच्चों का भविष्य, पहचाने उनकी प्रतिभा – कलेक्टर

शिक्षक गढ़ते है बच्चों का भविष्य, पहचाने उनकी प्रतिभा – कलेक्टर

विकासखंड नवागढ़ शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में उत्कृष्ट परीक्षा परिणाम हेतु योजना बनाकर कार्य करने के अधिकारियों को दिए निर्देश

शाला प्रवेश उत्सव के साथ पाठ्य पुस्तक, गणवेश, साइकिल आदि वितरण की तैयारी पूरी करने के दिए निर्देश

 

 

जांजगीर चांपा, 07 जून 2024/ कलेक्टर आकाश छिकारा ने शुक्रवार को नवागढ़ विकासखंड के सभाकक्ष में विकासखंड शिक्षा अधिकारी, प्राचार्यों तथा सहायक विकासखण्ड शिक्षा अधिकारियों, विकासखण्ड स्त्रोत समन्वयकों की बैठक ली। बैठक में उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के भविष्य को गढ़ने का कार्य शिक्षक करते है, इसके लिए जरूरी है कि विधार्थी की रुचि को पहचाने और उसके अनुसार उसकी प्रतिभा को विकसित करें। उन्होंने विकासखंड नवागढ़ शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में उत्कृष्ट परीक्षा परिणाम हेतु योजना बनाकर कार्य करने, शाला प्रवेश उत्सव के साथ पाठ्य पुस्तक, गणवेश, साइकिल आदि वितरण की तैयारी पूर्ण करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर छिकारा ने विकासखंड शिक्षा अधिकारी, प्राचार्यों से कहा कि बच्चों के सर्वांगीण विकास हेतु गुणात्मक शिक्षा अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने जिले के विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने हेतु जरूरी उपाय सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। श्री छिकारा ने बैठक में नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि जिले में कक्षा 10 वीं एवं कक्षा 12 वीं का परीक्षा परिणाम उम्मीद के अनुसार बेहतर नहीं आया इसको लेकर प्राचार्याे से कारण भी पूछा। उन्होंने विभाग के सभी अधिकारियों एवं शिक्षकों को जिले के परीक्षा परिणाम को उत्कृष्ट बनाने हेतु योजना बनाकर उसे अमलीजामा पहनाने के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ कार्य करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने उत्कृष्ट जांजगीर कार्यक्रम के तहत कहा कि शिक्षा सत्र प्रारंभ होते ही टीचर, विद्यार्थी समय पर शाला में उपस्थित रहे, समय सीमा में पाठ्यक्रम को पूर्ण किया जाए, साप्ताहिक, प्रतिमाह, त्रिमासिक पढ़ाई का मूल्यांकन किया जाए इसके अलावा कमजोर बच्चों के लिए एक्स्ट्रा क्लास लगाई जाए। उन्होंने माह के अंतिम शनिवार को पालक, शिक्षक बैठक का आयोजन किया जाए। उन्होंने कहा कि बचपन से ही बच्चों की झिझक दूर करने के लिए बोलेगा बचपन अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें प्रतिदिन बच्चे मंच पर आकर अपना परिचय, सुविचार आदि प्रस्तुत करते है। बैठक में नवोदय परीक्षा, एन ए एस परीक्षा एवं सैनिक स्कूल की परीक्षा की तैयारी करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने प्राचार्यों से आवश्यक सुझाव भी लिए। बैठक में कलेक्टर छिकारा ने शाला प्रवेशोत्सव, भवन व परिसर की साफ-सफाई, छात्रवृत्ति, जाति निवास प्रमाण पत्र, परीक्षा आकलन आदि के संबंध में विस्तृत समीक्षा की। छिकारा ने नए शिक्षा सत्र प्रारंभ होेने के पूर्व स्कूलों की मरम्मत आदि कार्य के अलावा मध्यान भोजन, किचिन व्यवस्थित करते हुए सभी कार्यों को पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले में शिक्षा के अधिकार अधिनियम के अंतर्गत बच्चों की समुचित प्रवेश कराएं जाने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को बच्चों के अध्ययन-अध्यापन के अलावा शिक्षकों की उपस्थिति की सतत् मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। बैठक में संयुक्त कलेक्टर ममता यादव, डीईओ अश्वनी भारद्वाज, डीएमसी राजकुमार तिवारी, बी ई ओ  विजय लहरे, प्राचार्य सहित संबंधित अधिकारी-कर्मचारीगण उपस्थित थे।

शिक्षकों का किया गया सम्मान –

कलेक्टर आकाश छिकारा ने उत्कृष्ट कार्य करने पर शिक्षकों का सम्मान किया। पोस्ट ऑफ द मंथ एवं समर कैम्प जैसी गतिविधियों में बेहतर कार्य करने पर शिक्षिका चुन्नी देवांगन, अनुराधा मधुकर, सविता कौशिक, शिक्षक चन्द्रशेखर एवं रविशंकर सोनकर को श्रीफल, प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। इसके अलावा छात्रा नीरा पंकज, ज्योति शास्त्री, कनि बंजारे ने आठवी एवं नवमी के विषयों को लेकर की गई तैयारियों को लेकर अपने अनुभव साझा किये।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
error: Content is protected !!