पद्मश्री अनुज शर्मा ने बांधे रखा दर्शकों को, जाज्वलयदेव लोक महोत्सव में दी प्रस्तुति , 200 स्कूली बच्चों व 100 से ज्यादा स्थानीय कलाकारों ने दी प्रस्तुति

पद्मश्री अनुज शर्मा ने बांधे रखा दर्शकों को, जाज्वलयदेव लोक महोत्सव में दी प्रस्तुति , 200 स्कूली बच्चों व 100 से ज्यादा स्थानीय कलाकारों ने दी प्रस्तुति

सुआ, कर्मा, भरथरी, हनुमान चालीसा पर नृत्य ने मोहा दर्शको को

जाज्वलयदेव लोककला महोत्सव में किये गए सांस्कृतिक कार्यक्रम

 

जांजगीर-चाम्पा 11 फरवरी 2024/ जाज्वलयदेव लोक कला महोत्सव के पहले दिन 10 फरवरी को स्कूली छात्र छात्राओं की प्रस्तुतियों सहित स्थानीय कलाकारों ने खूब रंग जमाया। छत्तीसगढ़ी बारहमासी, सुआ, कर्मा, राउत, नाच, डंडा नाच, पंथी, भरथरी की प्रस्तुतियां हुई। जिसमे शा हाईस्कूल सुकली, जेपी पब्लिक स्कूल पेंड्री, जनपद प्रा शा जर्वे, कु प्रत्यक्षा सिंह डीपीएस, रेम्बो पब्लिक स्कूल चाम्पा, प्री मेट्रिक कन्या अजा, अजजा छात्रावास, पोस्ट मेट्रिक कन्या अजा, अजजा छात्रावास, आर के आर स्कूल, डीपी केशरवानी स्कूल, यज्ञशाला सरस्वती शिशु मंदिर, शा कन्या उ मा वि जांजगीर, सेजस क्रमांक 1, शा उ मा वि सरखों, जाज्वलयदेव कन्या महाविद्यालय जांजगीर व पीमश्री केंद्रीय विद्यालय जांजगीर, केजीबी बरगांव, पहरिया के 200 छात्र छात्राओं ने प्रस्तुति दी। स्थानीय कलाकारों में अभिज्ञा बरेठ, खुशी पोर्ट, वृष्टि टंडन, कुकदा ग्राम के युवाओं द्वारा डंडा नाच, तनिष्क वर्मा द्वारा गीत व फ्लेम डांस स्टूडियो द्वारा रामायण महाकाव्य एवम मोर मयारू रानी सांस्कृतिक संस्था कापन द्वारा भरथरी गायन किया गया।
जाज्वलयदेव लोक कला महोत्सव की पहली शाम छालीवुड सुपरस्टार पद्मश्री अनुज शर्मा के नाम रही। उन्होंने जब राम सिया राम सिया राम जय जय राम गया तो दर्शक झूम उठे। अपने चिर परिचित अंदाज से उन्होंने मंगल भवन अमंगल हारी दरहु सो दशरथ अजिर बिहारी गीत से शुरुआत की। दर्शको ने उनके गाये एवं उन पर फिल्माए छत्तीसगढ़ी फिल्मी गीतों का खूब लुत्फ उठाया।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer
error: Content is protected !!