पिकनिक मनाने गए 8 दोस्त, 2 छात्र नहाते वक्त से लापता 11वीं के छात्र थे दोनों; नहाने के दौरान गहराई में जाने से हादसा 28 घण्टे बाद एक छात्र का शव मिला दूसरी की तलाश जारी

पिकनिक मनाने गए 8 दोस्त, 2 छात्र नहाते वक्त से लापता 11वीं के छात्र थे दोनों; नहाने के दौरान गहराई में जाने से हादसा।28 घण्टे बाद एक छात्र का शव मिला दूसरी की तलाश जारी

Advertisement

 

 

नगर के लोग किसी अनहोनी की आशंका नही हो इसके लिए दोनों बच्चों की सकुशल सलामती के लिए प्रार्थनाएं कर रहे है।

बलौदा।  जांजगीर-चांपा जिले के बलौदा विकासखंड के ग्राम देवरी चिचोली पहरिया के हसदेव नदी में दो छात्र लापता हैं। 8 दोस्त पिकनिक मनाने के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान हसदेव नदी में नहाने के दौरान ये हादसा हो गया है। घटना के बाद कई घंटे बीत जाने के बाद भी इन दोनों का कुछ पता नहीं चल सका है। मामला बलौदा थाना क्षेत्र का है।
बलौदा निवासी दिव्यांश कटकवार 16वर्ष पिता विकास कटकवार और प्रांजल देवांगन 17 वर्ष पिता किशोर देवांगन,अपने 6 और दोस्तों के साथ मंगलवार को पिकनिक स्पॉट देवरी चिचोली गए थे। यहां सभी ने पहले खाना खाया। इसके बाद दिव्यांश और प्रांजल हसदेव नदी में नहाने चले गए थे।

 

 

 

देर शाम अंधेरा होने तक दोनों की तलाश जारी रही।
बताया जा रहा है कि दिव्यांश और प्रांजल नदी में जिस वक्त नहाने गए थे। बाकी के दोस्त बाहर ही घूम रहे थे। दोनों नहा रहे थे। इसी बीच दोपहर को करीब 3 बजे दोनों के चिल्लाने की आवाज आने लगी। दोनों गहराई में चले गए थे। इसी दौरान बाकी के साथियों ने उन्हें बहते हुए देखा। इस पर कुछ ने नदी में छलांग भी लगाई। मगर तब तक दोनों नदी में खो गए थे।
घटना के बाद छात्रों ने दोनों की काफी तलाश की। लेकिन कुछ पता नहीं चला। इस बीच इन्हीं छात्रों ने पूरे घटनाक्रम की जानकारी परिजनों और पुलिस को दी। जिसके बाद गोताखोर और पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। फिर रेस्क्यू ऑपरेशन भी चलाया गया। मगर देर शाम तक दोनों का कुछ पता नहीं चल सका है।
बड़ी संख्या में देवरी ग्रामवासी और आस-पास के लोग मौके पर पहुंचे थे।
11वीं के छात्र थे दोनों
मंगलवार को रात हो जाने के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन बंद कर दिया गया है। बिलासपुर से एसडीआरएफ की टीम को भी बुलाया गया जो बुधवार सुबह से इनकी तलाश में जुटी हैं ।
साथ ही ग्राम पंचायत देवरी के सरपंच के द्वारा स्थानीय गोताखोर मछुआरों की भी मदद ली जा रही है। इनके साथ मे स्थानीय बलौदा थाना प्रभारी गोपाल सतपथी की टीम कल शाम से खबर मिलने के बाद से एस डी आर एफ की टीम और गोताखोरों के सहयोग में लगे है।जब से परिजनों को इस बात की खबर मिली है। तब से उनका रो-रोकर बुरा हाल है। उन्हें उम्मीद है कि उनके बच्चे वापस आ जाएंगे। दोनों 11वीं कक्षा के छात्र थे। जो बलौदा के आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूलों में पढ़ रहे थे।
आज सुबह जांजगीर चाम्पा एस पी विजय अग्रवाल देवरी घटना स्थल पहुंचे और एस डी आर एफ बिलासपुर से आये मेजर ध्रुव कुमार साहू को सभी प्रकार की सहायता उपलब्ध करा कर दोनों छात्रो को शीघ्र तलाश करने को कहा,वहीं लापता छात्रो के परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना दिए।
देवरी का यह जगह काफी डेंजरस है इसके लिए वालपेन्टिंग और सुरक्षा सचेतक लगाने के लिए व्यवस्था कराते है।
विजय अग्रवाल
एस पी जांजगीर चाम्पा

ऐसा हादसा कई बार हो चुका है।
इस जगह को ब्लेक स्पॉट घोषित कर देना चाहिए।
या वहां जाने पर प्रतिबंध या सुरक्षा घेरा लगाने की तत्काल आवश्यकता है।
हमेशा असामाजिक तत्वों का लगा रहता है जमावड़ा।
फिर भी सामूहिक रूप से प्रशासन अधिकारी कर्मचारी भी वहां पिकनिक मनाने जाते है। और नदी में खड़े हो कर सेल्फी या ग्रुप फोटो लेते है।

पिछले वर्ष भी एक किशोर भी इसी जगह बह गया था।आज से तीन वर्ष पूर्व भी उसी जगह तीन छात्र बहे थे।जिसमे से एक बचकर बाहर आया और दो छात्र चाम्पा और दीपका के बह गए जिनका शव दो दिनों बाद मिला था।
ऐसी धटना के बाद भी स्थानीय और प्रशासन स्तर पर कोई भी पहल नही हुआ।और नही सचेत हुई।
देवरी चिचोली पहरिया के पास हसदेव नदी का किनारा है यह कोई शासन स्तर पर घोषित पर्यटक स्थल नही है देवरी ग्राम से 500 मीटर दूर रेत का टापू बना एक स्थान है जहां लोग पिकनिक मनाने जाते है ।वही किनारे से हसदेव नदी बड़े बड़े चट्टानों के बीच बहती है।और लोग नहाने के लिए उतरते है जहां पर बड़ी बड़ी फिसलन भरी चट्टानों में गिर कर चोटिल और जिन्हें तैरना नही आता वे हादसे का शिकार हो रहे है।
समाचार लिखे जाने तक 5:30 बजे शाम दोनों किशोरों में एक प्रांजल देवांगन का शव एस डी आर एफ की टीम को मिली।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer
Advertisement
error: Content is protected !!